महाकाल दर्शन की नई व्यवस्था / सुबह 8 से शाम 6 बजे तक भक्त बाबा को दूर से ही निहार पाएंगे, 250 के स्लॉट में श्रद्धालुओं को मिलेगा प्रवेश

महाकाल दर्शन की नई व्यवस्था / सुबह 8 से शाम 6 बजे तक भक्त बाबा को दूर से ही निहार पाएंगे, 250 के स्लॉट में श्रद्धालुओं को मिलेगा प्रवेश



 




  • जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में 8 जून से मंदिर को खोलने का निर्णय लिया गया

  • श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की बैठक में बाबा के दर्शन के लिए रूप-रेखा तय की गई

  • भक्तों को दर्शन के लिए ऑनलाइन, एप, टोल फ्री नंबर या मंदिर काउंटर से परमिशन लेनी होगी


उज्जैन. 8 जून से बाबा महाकाल अपने भक्तों को फिर से दर्शन देंगे। भक्त सुबह 8 से शाम 6 बजे तक बाबा महाकाल को दूर से ही निहार सकेंगे। भस्मआरती के साथ अन्य आरतियों में भी भक्त शामिल नहीं हो पाएंगे। भक्तों को सैनिटाइजेशन और मास्क के साथ स्लॉट में भेजा जाएगा। ये सभी निर्णय शनिवार को श्री महाकालेश्वर मंदिर प्रबंध समिति की बैठक में किए गए। इसके पहले शुक्रवार को जिला स्तरीय आपदा प्रबंधन समिति (क्राइसिस मैनेजमेंट  ग्रुप) की बैठक में 8 जून से मंदिर को खोलने का निर्णय लिया गया था। भक्तों को परेशानी न हो इसलिए मंदिर के साथ ही होटल, धर्मशाला, रेस्टोरेंट आदि भी खोल दिए जाएंगे।


संक्रमण को देखते हुए उज्जैन स्थित महाकालेश्वर मंदिर को 21 मार्च को ही आम श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया गया था। इसके बाद से मंदिर में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा हुआ है। शनिवार को कलेक्टर आशीष सिंह की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें तय किया गया कि बिना अनुमति के किसी को भी मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। अनुमति तीन तरीके से ली जा सकेगी। इसके लिए भक्तों को एक दिन पहले वेबसाइट, टोल फ्री नंबर या फिर मंदिर के कांउटर से अनुमति लेनी होगी। सभी अनुमति पूरी तरह से फ्री रहेगी। कलेक्टर के साथ एसपी, समिति सदस्य, पंडे-पुजारी, निमगायुक्त और महापौर ने बैठक के बाद मंदिर का निरीक्षण किया।


यह रहेगी दर्शन की व्यवस्था



  • 8 जून से भक्त बाबा महाकाल के सुबह 8 से शाम 6 बजे तक दर्शन कर सकेंगे।

  • गर्भगृह में प्रवेश बंद रहेगा, श्रद्धालु गणेश मंडप से दर्शन कर सकेंगे। 

  • मंदिर में होने वाली पांच आरती में भी भक्तों का प्रवेश बंद रहेगा।

  • श्रद्धालुओं को पहले ऑनलाइन, टोल फ्री नंबर या फिर मंदिर काउंटर के जरिए परमिशन लेना होगी।

  • मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ श्रद्धालुओं को स्लॉट में छोड़ा जाएगा।

  • 250-250 के चार स्लॉट में श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश दिया जाएगा। 

  • मंदिर में पूजन सामग्री, प्रसाद आदि नहीं ले जा सकेंगे।  

  • मंदिर में तड़के होने वाली भस्मआरती में प्रवेश व 250 रुपए से शीघ्र दर्शन की व्यवस्था बंद रहेगी।

  • दर्शन के दौरान भक्तों को रोककर मंदिर परिसर को सैनिटाइज किया जाएगा, दिन में तीन बार ऐसा किया जाएगा।


ये है टोल फ्री नंबर और वेबसाइट



  • टोल फ्री नंबर - 18002331008

  • एप - mahakal app

  • वेबसाइट- mahakaleshwar.nic.in



Popular posts
सीमा विवाद पर भारत की दो टूक / अफसरों ने कहा- चीन बॉर्डर से अपने 10 हजार सैनिक और हथियार हटाए, ऐसा होने पर ही पूरी तरह शांति कायम होगी
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी