कोरोना दुनिया में LIVE / स्पेन के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- जब तक महामारी को स्थायी रूप से हरा नहीं देते, तब तक मास्क पहनना अनिवार्य; दुनिया में अब तक 72.38 लाख संक्रमित

कोरोना दुनिया में LIVE / स्पेन के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- जब तक महामारी को स्थायी रूप से हरा नहीं देते, तब तक मास्क पहनना अनिवार्य; दुनिया में अब तक 72.38 लाख संक्रमित



 




  • दुनिया में अब तक 4 लाख 9 हजार 644 लोगों की मौत, जबकि 35.65 लाख से ज्यादा ठीक हुए

  • अमेरिका में 20.29 लाख से ज्यादा संक्रमित, 1 लाख 13 हजार 235 लोगों की मौत हुई


वॉशिंगटन. दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक 4 लाख 9 हजार 644 लोगों की मौत हो चुकी है। संक्रमितों का आंकड़ा 72 लाख 38 हजार 484 हो गया है। अब तक 35 लाख 65 हजार 154 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। स्पेन के स्वास्थ्य मंत्री सल्वाडोर इला ने मंगलवार को कहा कि जब तक कोरोनावायरस स्थायी रूप से खत्म नहीं होता, तब तक देश में मास्क पहनना अनिवार्य होगा। यहां अब तक 2.88 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 27 हजार मौतें हो चुकी हैं।


कोरोनावायरस : 10 सबसे ज्यादा प्रभावित देश








































































देश


कितने संक्रमितकितनी मौतेंकितने ठीक हुए
अमेरिका20,29,8371,13,2357,73,543
ब्राजील7,11,69637,359 3,25,602
रूस 4,85,2536,142 2,42,397
स्पेन 2,88,79727,136उपलब्ध नहीं
ब्रिटेन 2,87,39940,680उपलब्ध नहीं
भारत2,70,8767,5541,31,380
इटली2,35,27833,9641,66,584
पेरू1,99,6965,57189,556
जर्मनी1,86,3138,8021,70,200
ईरान1,75,9278,4251,38,457

ये आंकड़े https://www.worldometers.info/coronavirus/ से लिए गए हैं।


फ्रांस: 25 जून से एफिल टावर लोगों के लिए खोला जाएगा


पेरिस स्थित एफिल टावर 25 जून से लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद पहली बार सबसे ज्यादा दिनों तक इसे बंद रखा गया। यहां आने वाले 11 साल से ऊपर के सभी लोगों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा। 15 मई के बाद से ही सरकार ने लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील देनी शुरू कर दी थी।


स्पेन: इमरजेंसी हटने के बाद भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा


स्पेन के स्वास्थ्य मंत्री सल्वाडोर इला ने मंगलवार को कहा कि जब तक कोरोनावायरस खत्म नहीं होता, तब तक देश में मास्क पहनना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा कि 21 जून को देश से इमरजेंसी हटने के बाद भी इससे बचाव के लिए लगाए गए लागू रहेंगे। जब तक महामारी का स्थायी इलाज नहीं मिल जाता, जब तक लोगों को इसका पालन करना होगा। प्रधानमंत्री पेड्रो सांचेज ने कुछ दिनों पहले ही कहा था कि 6 साल के ऊपर के सभी लोगों को पब्लिक प्लेस पर मास्क पहनना होगा।


ब्रिटेन: दूसरा देश जहां सबसे ज्यादा मौतें हुईं


इंग्लैंड और वेल्स, स्कॉटलैंड और उत्तरी आयरलैंड के राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालयों के अनुसार, ब्रिटेन में अब तक 50 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। स्टैटिस्टिक्स एंड रिसर्च एजेंसी (ओएनएस) के अनुसार, मई के अंत तक लगभग 50,413 लोगों की जान गई है। ओएनएस ने कहा कि इंग्लैंड और वेल्स में 29 मई तक 45,748 लोगों की मौत हुई। वहीं, 31 मई तक स्कॉटलैंड में 3,911 और उत्तरी आयरलैंड में 29 मई तक 754 लोग दम तोड़ चुके हैं। अमेरिका के बाद ब्रिटेन दूसरा देश है, जहां सबसे ज्यादा लोगों की मौत हुई है। उधर, ब्रिटेन के स्वास्थ्य और सोशल केयर के मुताबिक, यहां 40,680 लगों की जान गई है।


नेपाल: संक्रमितों का आंकड़ा 4 हजार के पार


नेपाल में मंगलवार को 323 नए मरीज मिले हैं। इनमें 292 पुरुष हैं, जबकि 31 महिला हैं। इसके साथ ही यहां संक्रमण का आंकड़ा 4085 हो गया है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, देश में अब तक 15 लोगों की जान जा चुकी है। अब तक 584 लोग स्वस्थ्य हो चुके हैं। देश में अब तक 1 लाख 6 हजार 303 लोगों की जांच की जा चुकी है। टेस्टिंग और क्वारैंटाइन सुविधाओं को लेकर मंगलवार को लोगों ने पीएम हाउस के बाहर प्रदर्शन भी किया। साथ ही वे लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील देने की भी मांग कर रहे थे।


चीन : ऑस्ट्रेलिया से तनातनी
चीन की एजुकेशन मिनिस्ट्री ने मंगलवार को एक बयान जारी किया। इसमें कहा गया- हमारे देश के जो छात्र ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई के लिए जाना चाहते हैं, उन्हें इस बारे में फिर विचार करना चाहिए। वहां नस्लीय हिंसा के मामले बढ़ रहे हैं। बयान में एशियाई नागरिकों के साथ हो रही घटनाओं का जिक्र किया गया है। पिछले हफ्ते चीन ने अपने नागरिकों को सलाह दी थी कि वे ऑस्ट्रेलिया की यात्रा से परहेज करें।


रूस : 24 घंटे में 171 मौतें


रूस में 24 घंटे के दौरान 171 और लोगों की मौत हुई। अब मरने वालों का आंकड़ा 6142 हो गया है। इसी दौरान संक्रमण के 8595 नए मामले भी सामने आए। कुल संक्रमितों की संख्या 4 लाख 85 हजार 253 हो गई। राजधानी मॉस्को समेत देश के कई हिस्सों में सख्त प्रतिबंध लागू हैं। हालांकि, पहले की तुलना में यह कम हैं। सरकार एक और टेम्परेरी अस्पताल बनाने की तैयारी कर रही है। मॉस्को में पहले ही इसी तरह का एक अस्पताल काम कर रहा है।


फिलीपींस : रैमन मैग्सेसे अवॉर्ड्स सेरेमनी नहीं होगी
एशिया का नॉबेल कहे जाने रैमन मैग्सेसे अवॉर्ड्स इस साल नहीं दिए जाएंगे। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, मनीला में होने वाला पुरस्कार समारोह रद्द कर दिया गया है। 60 साल में यह सिर्फ तीसरा मौका है जब ये अवॉर्ड्स नहीं दिए जाएंगे। 1970 में आर्थिक दिक्कतों की वजह से इस कार्यक्रम को रद्द किया गया था। इसके बाद 1990 में फिलीपींस में भूकंप आया था। इसकी वजह से पुरस्कार नहीं दिए गए थे।


ब्राजील : नए आंकड़े जारी किए
देश और दुनिया में हो रही आलोचना के बाद ब्राजील की हेल्थ मिनिस्ट्री ने आखिरकार पांच दिन बाद संक्रमण के नए आंकड़े जारी किए। बताया गया कि 15 हजार 654 मामले सोमवार को दर्ज किए गए। कुल 7 लाख 7 हजार 412 मामलों की जानकारी दी गई है। 24 घंटे में 679 मौतों की जानकारी भी दी गई। अब यह आंकड़ा 37 हजार 134 हो गया है। बता दें कि अमेरिकी और स्थानीय मीडिया की खबरों में रविवार को ये कहा गया था कि 4 जून के बाद ब्राजील ने सही आंकड़ों की जानकारी नहीं दी। यहां एक सामाजिक संगठन ने इसके विरोध में प्रदर्शन भी किए थे।


निकारागुआ : डॉक्टरों का आरोप
यहां डॉक्टरों ने आरोप लगाया कि सरकार ने जो आंकड़े जारी किए हैं, संक्रमितों का वास्तविक आंकड़ा उससे पांच गुना ज्यादा है। यहां सिटिजंस इंडिपेंडेंट नेटवर्क नाम का एक संगठन देश में संक्रमण के मामलों पर नजर रख रहा है। सरकार ने अब तक कुल 1118 मामलों और 46 मौतों की जानकारी दी है। वहीं इस संगठन ने कहा है कि देश में 5 हजार 27 मामले हैं और अब तक 1015 की मौत हुई है।  


क्यूबा : 9 दिन से कोई मौत नहीं
हेल्थ मिनिस्ट्री ने सोमवार रात कहा कि देश में 9 दिन से किसी संक्रमित की मौत नहीं हुई। 24 घंटे में 9 नए मामले सामने आए। रविवार को राष्ट्रपति मिगुल डियाज ने कहा था- देश में संक्रमण काबू में है। सरकार ने जो सख्त उपाय किए थे उनके नतीजे सामने आने लगे हैं। लेकिन, हम किसी तरह की लापरवाही नहीं कर सकते। लोगों को सतर्क रहना होगा। यहां सभी फ्लाइट्स बंद हैं। संदिग्ध सिर्फ सरकारी अस्पताल में इलाज करा सकते हैं और मास्क लगाना जरूरी है। क्यूबा में कुल 2200 मामले और 83 मौतें हुई हैं।


अमेरिका : प्रचार करेंगे ट्रम्प
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने महामारी के बीच 2020 के चुनाव प्रचार के लिए तैयारी शुरू कर दी है। इस दौरान वो रैलियां करेंगे। एनबीसी न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रम्प इसी महीने चुनावी रैलियां शुरू करने जा रहे हैं। मिनेसोटा में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत के बाद ट्रम्प प्रशासन का विरोध बढ़ा है। हालांकि, उन्हें यह सलाह दी गई है कि रैलियां विरोध प्रदर्शन खत्म होने के बाद ही की जाएं। इस चुनाव में उनका मुकाबला डेमोक्रेट प्रत्याशी जोए बिडेन से है। 


इजराइल : पाबंदियां कम होंगी
यहां संक्रमण की दूसरी लहर सामने आ रही है। मामले बढ़े हैं लेकिन सरकार पाबंदियों में ढील देने पर विचार कर रही है। हालांकि, सोमवार से शुरू होने वाली ट्रेन सर्विस को आखिरी वक्त पर टाल दिया गया। देश में अब कुछ नियमों के साथ यात्रा की जा सकेगी। थिएटर औस सिनेमा 14 जून से खुलेंगे। शादियों में 250 लोग शामिल हो सकेंगे। इनका रिकॉर्ड रखना होगा। देश में अब तक 18 हजार 32 मामले सामने आए हैं। 24 घंटे में 169 नए मामले सामने आए।



Popular posts
सीमा विवाद पर भारत की दो टूक / अफसरों ने कहा- चीन बॉर्डर से अपने 10 हजार सैनिक और हथियार हटाए, ऐसा होने पर ही पूरी तरह शांति कायम होगी
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी