कोरोना वायरस :  3 दिन में ही 7 हजार मामले बढ़ गए


कोरोना वायरस :  3 दिन में ही 7 हजार मामले बढ़ गए 





 





नई दिल्ली









पिछले तीन महीने से देश कोरोना वायरस से जूझ रहा है. पूरे देश में पिछले करीब डेढ़ महीने से लॉकडाउन लगा हुआ है. फरवरी से अप्रैल खत्म होने तक देश में कोरोना के 34 हजार मामले सामने आए. अब मई की शुरूआत होते ही कोरोना ने ऐसी रफ्तार पकड़ी है कि सभी हैरान हो गए हैं. तीन दिन में कोरोना के सात हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं. 
कोरोना वायरस के मामले 34 हजार से बढ़कर सीधे 42 हजार हो गए हैं. तीन दिन में ही रिकॉर्ड 7,680 केस आए हैं.


4 मई से लॉकडाउन 3.0 शुरू हो चुका है. इसमें देशभर में कई चीजों में छूट दी गई है. लॉकडाउन में रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में कुछ छूट भी दी गई हैं. इसमें शराब की दुकानों को भी छूट दी गई है. सुबह से ही शराब की दुकानों पर कई किलोमीटर लंबी लाइनें देखी जा रही हैं. ऐसे में ताजा आंकड़े जरूर परेशानी खड़ी कर रहे हैं. दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 427 मामले सामने आए हैं. यह अब तक का एक दिन में कोरोना से संक्रमित होने का सबसे बड़ा आंकड़ा है. मई की शुरुआत हुई है और इन तीन दिन में दिल्ली में कुल 1034 मरीज आए हैं.


दूसरी तरफ अब तक हरियाणा देश के उन राज्यों में शामिल था जिनमें कोरोना के सबसे कम मामले दर्ज किए गए थे. अब हरियाणा में भी तेजी से मामले सामने आ रहे हैं. रविवार को ही 66 मामले एक ही दिन में सामने आए. इनमें सोनीपत के 4 डॉक्टर, 4 पत्रकार और 4 ही आंगनवाड़ी वर्कर शामिल हैं. इसके अलावा गुजरात में 374 केस सामने आए.  


वहीं पंजाब में शुक्रवार को कुल केसों की संख्या 585 थी जो रविवार को 1,102 हो गई. 






Popular posts
पेरू की पॉपुलर मंत्री / 35 साल की वित्त मंत्री मारिया बनीं स्टार, कोरोना के बीच आम लोगों और छोटे कारोबारियों के लिए रिकवरी पैकेज तैयार करने पर तारीफ मिल रही
शुभ संयोग : गुरु पुष्य नक्षत्र 30 अप्रैल : डॉ हुकुमचंद जैन ज्योतिषाचार्य
Image
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे
लोक अभियोजन अधिकारियों की न्याय दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका है - न्यायमूर्ति पाठक
Image
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला