कोरोना रिपोर्ट / कर्मचारी के पॉजिटिव आने के बाद एयर इंडिया का ऑफिस 2 दिन के लिए बंद, संक्रमित पाए गए 5 पायलट दोबारा जांच करने पर निगेटिव मिले

कोरोना रिपोर्ट / कर्मचारी के पॉजिटिव आने के बाद एयर इंडिया का ऑफिस 2 दिन के लिए बंद, संक्रमित पाए गए 5 पायलट दोबारा जांच करने पर निगेटिव मिले





पिछले शनिवार को एयरलाइन के 77 पायलट का कोरोना टेस्ट हुआ था। तब इनमें से पांच पायलट का रिजल्ट पॉजिटिव आया था






  • एयर इंडिया के 5 पायलट के टेस्ट शनिवार को हुए थे, री-टेस्ट में कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई 

  • एक टेक्नीशियन और एक ड्राइवर भी पॉजिटिव निकला था, उनके बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं मिली है


नई दिल्ली. दिल्ली में एयर इंडिया का हेडक्वार्टर दो दिनके लिए बंद कर दिया गया है। एक चपरासी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद यह फैसला लिया गया। कंपनी ने कहा कि चेयरमैन और प्रबंध निदेशक प्रदीप सिंह खारोला समेत सभी कर्मचारी घर से काम करेंगे। वहीं, इससे पहले संक्रमित मिले पांच पायलटों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। सभी पायलट हाल ही में कार्गो विमान लेकर चीन गए थे।


अधिकारियों ने बताया कि ऑफिस को सैनिटाइज किया जा रहा है। यहां हर समय विजिटर्स समेत करीब 200 लोग होते हैं। संक्रमित मिले कर्मचारी को होम क्वारैंटाइन कर दिया गया है।


इससे पहले, एक टेक्नीशियन और एक ड्राइवर के साथ एयर इंडिया के पांच पायलट की कोरोना रिपोर्ट शनिवार को पॉजिटिव आई थी। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी कहा जा रहा है कि इनकी टेस्ट किट खराब थीं। इसी वजह से इनकी रिपोर्ट गलत आईं। हालांकि, अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। उधर, टेक्नीशियन और एक ड्राइवर को लेकर स्थिति साफ नहीं हैं। हाल ही में ये पायलट कार्गो फ्लाइट्स लेकर चीन गए थे।


एयर इंडिया कई देशों में कार्गो उड़ानों का संचालन कर रही है


एयर इंडिया लॉकडाउन के बाद से कई देशों के लिए कार्गो उड़ानों का संचालन कर रही है। इसी बीच चिकित्सा आपूर्ति के लिए 18 अप्रैल को दिल्ली से ग्वांग्झो के लिए बोइंग 787 ने उड़ान भरी थी। एयरलाइन ने शंघाई और हॉन्गकॉन्ग के लिए भी मेडिकल कार्गो उड़ानें संचालित की थीं। एयरलाइन सूत्रों के मुताबिक, इन पांच पायलट ने 20 अप्रैल के बाद कोई उड़ान नहीं भरी है। 


77 पायलट का टेस्ट हुआ था 



  • पिछले शनिवार को एयरलाइन के 77 पायलट का कोरोना टेस्ट हुआ था। तब इनमें से पांच पायलट का रिजल्ट पॉजिटिव आया था। उस वक्त इन पायलट के करीबियों ने बताया कि उन्हें कोरोना के कोई लक्षण नहीं हैं और मुंबई में होम क्वारैंटाइन हैं। 

  • दरअसल, ये सभी पालयट बोइंग़ 787 ड्रीमलाइर्स एयरक्राफ्ट उड़ाते हैं। इन्हें वंदे भारत मिशन के तहत अलग-अलग देशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिए तैनान किया जाना था। उसके पहले यह टेस्ट हुए थे। 


दूसरा फेज 15 मई से शुरू होगा
वंदे भारत मिशन का पहला फेज 7 मई से 14 मई तक चलेगा। इसके तहत, 12 देशों से 14 हजार 800 भारतीयों को लाने का प्लान है। अभी तक अलग-अलग देशों से 5 हजार से ज्यादा भारतीयों को स्पेशल फ्लाइट्से भारत लाया जा चुका है। मिशन का दूसरा फेज 15 मई से शुरू होगा। इस फेज में सेंट्रल एशिया और यूरोपीय देशों जैसे- कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान, रूस, जर्मनी, स्पेन और थाईलैंड से भारतीयों को लाया जाएगा।



Popular posts
सीमा विवाद पर भारत की दो टूक / अफसरों ने कहा- चीन बॉर्डर से अपने 10 हजार सैनिक और हथियार हटाए, ऐसा होने पर ही पूरी तरह शांति कायम होगी
सीमा पर तनाव घटा / पूर्वी लद्दाख में गालवन इलाके से चीन ने सेना और बख्तरबंद गाड़ियां ढाई किमी पीछे बुलाईं, भारत ने भी जवान कम किए
टेबल टेनिस / शरत कमल ने कहा- टोक्यो ओलिंपिक में सिंगल्स में मेडल जीतना मुश्किल, पर डबल्स में मौका
Image
सिंधिया परिवार में कोरोना / ज्योतिरादित्य और उनकी मां कोरोना पॉजिटिव, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती; परिवार के तीन सदस्यों की रिपोर्ट निगेटिव आई
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई