कोरोना का असर / खेल मंत्री रिजिजू बोले- लॉकडाउन खत्म होते ही टॉप एथलीट्स की ट्रेनिंग शुरू होगी, इसके लिए 6 सदस्यों की कमेटी बनाई

कोरोना का असर / खेल मंत्री रिजिजू बोले- लॉकडाउन खत्म होते ही टॉप एथलीट्स की ट्रेनिंग शुरू होगी, इसके लिए 6 सदस्यों की कमेटी बनाई





खेल मंत्री किरन रिजिजू ने लॉकडाउन के बाद खिलाड़ियों की ट्रेनिंग को लेकर जो 6 सदस्यीय कमेटी बनाई है, उसकी अगुआई स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के सचिव कर रहे हैं। 






  • कोरोनावायरस की वजह से 14 मार्च से ही स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के ट्रेनिंग सेंटर बंद हैं

  • खेल मंत्री ने कहा-खिलाड़ियों का स्वास्थ्य पहली प्राथमिकता, हर हाल में गाइडलाइन का पालन होगा


खेल मंत्री किरन रिजिजू ने सोमवार को कहा कि लॉकडाउन खत्म होते ही देश के शीर्ष एथलीट्स की ट्रेनिंग दोबारा शुरू हो जाएगी। फिलहाल खिलाड़ियों और बाकी पक्षों को थोड़ा सब्र रखना चाहिए।


उन्होंने कहा कि इसकी योजना तैयार करने के लिए स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया(साई) ने 6 सदस्यों की एक कमेटी का गठन किया है। कमेटी के सदस्य अलग-अलग खेल संगठनों और खिलाड़ियों से बात करके योजना तैयार करेंगे। 


कमेटी की अगुआई साई के सचिव कर रहे


6 सदस्यीय कमेटी की अगुआई साई के सचिव रोहित भारद्वाज करेंगे। इसके अलावा टारगेट ओलिंपिक पोडियम (टॉप) के अध्यक्ष राजेश राजागोपालन, एसएस रॉय, एस सारला, बीके नायक और टॉप के असिस्टेंट डायरेक्टर सचिन कुमार शामिल हैं।कोविड-19 के कारण 14 मार्च से ही ट्रेनिंग सेंटर बंद हैं। 


खिलाड़ियों के स्वास्थ्य से कोई समझौता नहीं: रिजिजू


रिजिजू खेलों के दोबारा शुरू करने के मामले में अपने पुराने बयान पर कायम है। जो उन्होंने तीन मई को दिया था। इसमें उन्होंने कहा था खिलाड़ियों का स्वास्थ्य उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है। ट्रेनिंग लॉकडाउन खत्म होने के बाद शुरू होगी। पहले ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई कर चुके खिलाड़ी अपना अभ्यास शुरू करेंगे। इसके बाद साई के ट्रेनिंग सेंटर्स शुरू होंगे।


खेल मंत्री वेटलिफ्टर्स से बात करेंगे


खेल मंत्री ने कहा कि वह पटियाला एनआईएस में रूके वेटलिफ्टिर्स से भी बात करेंगे, ताकि जल्द से जल्द उनकी ट्रेनिंग शुरू हो सके।


खिलाड़ियों की मांग- साई सेंटर्स में ट्रेनिंग करने दी जाए


इधर, ट्रैक एंड फील्ड से जुड़े एथलीट्स खेल मंत्रालय से लगातार गुजारिश कर रहे हैं कि उन्हें साई सेंटर्स के भीतर ही ट्रेनिंग की इजाजत दी जाए। हालांकि, अब तक इसकी मंजूरी नहीं मिली है। इस बीच, मंत्रालय भी बॉक्सिंग और कुश्ती जैसे खेल, जिसमें खिलाड़ियों का एकदूसरे से सम्पर्क ज्यादा होता है। उसकी ट्रेनिंग शुरू करने के रास्ते तलाश रहा है। 



Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे