एक दर्जन से अधिक लोग भूख से कर रहे संघर्ष, राशन का टोटा, प्रशासन और जनप्रतिनिधि नहीं ले रहे सुध

एक दर्जन से अधिक लोग भूख से कर रहे संघर्ष, राशन का टोटा, प्रशासन और जनप्रतिनिधि नहीं ले रहे सुध

खबर प्लस न्यूज टीकमगढ़/आशीष तिवारी
जिले की खरगापुर विधानसभा के थाना कुड़ीला अंतर्गत  करीब 7 किलोमीटर दूर पचेर गांव के पास स्थित प्रसिद्ध खंदिया सरकार चंडी माता मंदिर परिसर में करीब 1 दर्जन से अधिक लोग लॉकडाउन के चलते फंसे हुए हैं और भूखे रहने को मजबूर हैं। यहां प्रशासन के सभी दावे फेल साबित हो रहे हैं । प्रशासन स्तर पर लॉकडाउन की अवधि में यहां केवल एक ही बार राशन की व्यवस्था की गई जबकि यहां फंसे सभी महिला पुरुष भूख से संघर्ष करने मजबूर हो रहे हैं।
पीडि़त लोगों ने गांव के सरपंच सचिव और अधिकारियों से भी कई बार अपनी पीड़ा बयां की लेकिन किसी ने इनकी सुध नहीं ली। मंदिर परिसर में जो महिलाएं फंसी हुई हैं वह भी काफी दुखी हैं। टीकमगढ़ जिले के अलावा उत्तर प्रदेश दिल्ली ललितपुर सहित अन्य  जिलों के निवासी हैं लेकिन लॉकडॉन के चलते  वह यहां फस गए  पीड़ित लोगों ने बताया कि वह यहां माता मंदिर में दर्शन करने के लिए आए थे  लेकिन  अचानक लॉकडॉन के चलते वाहनों की आवाजाही बंद हो गई जिसके चलते वह सभी लोग यहां  करीब एक महीने से फंसे हुए हैं  आलम यह है कि यहां सभी एक दर्जन महिलाएं और पुरुष पिछले 1 सप्ताह से हरे पत्ते खाकर और जैसे तैसे अपने दिन गुजार रहे हैं पीड़ित लोगों का कहना है कि  प्रशासन की ओर से यहां कोई राशन की व्यवस्था नहीं बनाई जा रही है ना ही यहां जनप्रतिनिधि भी ध्यान दे रहे हैं यदि यही हाल रहा तो उनके जीवन पर  अब गंभीर संकट खड़ा हो जाएगा पीड़ित लोगों और महिलाओं ने जिला प्रशासन से जल्द से जल्द  मंदिर परिसर में फंसे लोगों के लिए राशन की पर्याप्त व्यवस्था बनाने की गुहार लगाई है इस मामले में कलेक्टर हर्षिका सिंह का कहना है कि संबंधित जगह पर अधिकारियों  को भेजकर पीड़ित लोगों की समस्या का समाधान कराया जाएगा यदि वहां राशन की


Popular posts
लॉकडाउन में घर में घुस कर मध्यप्रदेश में नेत्रहीन महिला अधिकारी से रेप, परिजन दूसरे राज्य में फंसे 
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई