छत्तीसगढ़  / पूर्व सीएम अजीत जोगी को दिल का दौरा, हालत गंभीर; डॉक्टर ने कहा- इमली का बीज गले में अटकने से हुई परेशानी

छत्तीसगढ़  / पूर्व सीएम अजीत जोगी को दिल का दौरा, हालत गंभीर; डॉक्टर ने कहा- इमली का बीज गले में अटकने से हुई परेशानी





छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जाेगी की तबीयत खराब होने के बाद उन्हें रायपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। -फाइल फोटो






  • जोगी को रायपुर के श्रीनारायणा अस्पताल में भर्ती कराया गया


रायपुर. छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को शनिवार सुबह दिल का दौरा पड़ा। उन्हें रायपुर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। उनकी हालत फिलहाल गंभीर है। डॉक्टरों का कहना है कि उन्हें कार्डियक अरेस्ट हुआ है। 
शनिवार सुबह करीब 7 बजे उनकी पत्नी और विधायक डॉ. रेणु जोगी ने अजीत का ब्लड प्रेशर चेक किया। काफी कम होने और उसमें सुधार नहीं होने पर जोगी को देवेंद्र नगर स्थित श्रीनारायणा अस्पताल में भर्ती कराया गया। बेटे अमित जोगी ने पिता की तबीयत खराब होने की बात कही है। वे बिलासपुर से रायपुर के लिए रवाना हो गए हैं। 


अस्पताल के डायरेक्टर डॉक्टर सुनील खेमका ने बताया- जोगी को कार्डियक अरेस्ट आया था। अब रिकवरी हो रही है। हालांकि, स्थिति अब भी गंभीर है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बेटे अमित जोगी से फोन पर अजीत के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली।


डॉ.  खेमका के मुताबिक, “जोगी घर में व्हील चेयर पर टहल कर इमली खा रहे थे। इसी दौरान इमली का बीज उनके गले मे अटक गया। इससे हार्टबीट असामान्य हो गई। हालांकि, अब ये नॉर्मल है। उन्हें दो दिन ऑब्जर्वेशन में रखा जाएगा।” खेमका ने जोगी को एयर एम्बुलेंस से दिल्ली ले जाने की बात से इनकार कर दिया। कहा- अभी इसकी जरूरत नहीं है। 



Popular posts
सीमा विवाद पर भारत की दो टूक / अफसरों ने कहा- चीन बॉर्डर से अपने 10 हजार सैनिक और हथियार हटाए, ऐसा होने पर ही पूरी तरह शांति कायम होगी
सीमा पर तनाव घटा / पूर्वी लद्दाख में गालवन इलाके से चीन ने सेना और बख्तरबंद गाड़ियां ढाई किमी पीछे बुलाईं, भारत ने भी जवान कम किए
टेबल टेनिस / शरत कमल ने कहा- टोक्यो ओलिंपिक में सिंगल्स में मेडल जीतना मुश्किल, पर डबल्स में मौका
Image
सिंधिया परिवार में कोरोना / ज्योतिरादित्य और उनकी मां कोरोना पॉजिटिव, दिल्ली के अस्पताल में भर्ती; परिवार के तीन सदस्यों की रिपोर्ट निगेटिव आई
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई