लॉकडाउन में हत्या / उज्जैन में घर से पैदल ड्यूटी पर जा रहे सिक्योरिटी गार्ड की चाकू घोंपकर हत्या, वारदात सीसीटीवी में कैद

लॉकडाउन में हत्या / उज्जैन में घर से पैदल ड्यूटी पर जा रहे सिक्योरिटी गार्ड की चाकू घोंपकर हत्या, वारदात सीसीटीवी में कैद




  • हमलावरों ने सिक्योरिटी गार्ड अशोक पर ताबड़तोड़ 8 से 10 बार चाकू से वार किए। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। हत्या की यह घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।हमलावरों ने सिक्योरिटी गार्ड अशोक पर ताबड़तोड़ 8 से 10 बार चाकू से वार किए। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। हत्या की यह घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।





  • उज्जैन के नीलगंगा थाना क्षेत्र में लॉकडाउन के दौरान 28 दिन के अंदर हत्या की यह दूसरी घटना है

  • पुलिस ने बताया कि हत्यारोपी फुटेज में नजर आ रहा है, उसका मृतक की बहन के घर आना-जाना था


उज्जैन. शहर में पाटीदार अस्पताल के सिक्योरिटी गार्ड अशोक चौहान (52) की सोमवार शाम को विवेकानंद कॉलोनी मार्ग पर स्कूटी से आए युवकों ने चाकू घोंपकर हत्या कर दी। सिक्योरिटी गार्ड शाम को शास्त्री नगर स्थित घर से पैदल ड्यूटी के लिए निकला था। इसी दौरान रैकी कर बदमाशों ने वारदात की। हमलावर का मृतक की बहन के घर पर आता-जाता था। सिक्योरिटी गार्ड अशोक द्वारा इसी को लेकर आपत्ति लिए जाने पर उसकी हत्या की बात सामने आई है।


लॉकडाउन के दौरान नीलगंगा थाना क्षेत्र में ही 28 दिन के अंदर हत्या की यह दूसरी घटना है। शाम साढ़े छह बजे करीब गार्ड अशोक घर से रोज की तरफ ड्यूटी के लिए जा रहा था। रास्ते में स्कूटी से दो बदमाश उसके पास आकर रुके और उस पर चाकू से हमला कर दिया। सीने व पेट पर चाकू लगने से अशोक वहीं पर गिर गया और खून अधिक बहने से मौके पर ही उसकी मौत हो गई। सूचना मिलते ही एसएसपी सचिन अतुलकर घटनास्थल पर पहुंचे। टीआई कुलवंत जोशी ने बताया कि मृतक के घर के पास ही उसकी बहन राजकुमारी रहती है, जहां शेरू नामक युवक का आना-जाना है। इसी को लेकर अशोक आपत्ति लेता था। हमलावरों के सीसीटीवी फुटेज भी सामने आए हैं, जिसमें शेरू की पहचान हुई है। उसकी तलाश में दबिश दी जा रही है।


तीन दिन पहले ही हमलवार को अस्थायी जेल भिजवाया था
बदमाश शेरू के खिलाफ तीन दिन पहले ही प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करते हुए उसे अस्थायी जेल भी भिजवाया गया था। पुलिस ने बताया कि राजकुमारी ने अपने भाई अशोक के खिलाफ सूचना दी थी कि वह घर के सामने अर्धनग्न घूमता है। पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि अशोक वहां आने वाले शेरू को लेकर आपत्ति लेता है, इसलिए बहन ने झूठी शिकायत कर भाई को फंसाने का प्रयास किया। पुलिस ने शेरू को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करते हुए अस्थायी जेल भिजवाया था। जेल से आने के बाद से ही वह रंजिश रखे हुए था।


मां-बेटी मौके पर पहुंची तो बदहवास होकर गिर पड़ी
घटनास्थल पर अशोक की पत्नी मंजू व बेटी तनू को पुलिस शिनाख्त के लिए लेकर आई। यहां मां-बेटी बदहवास हो गई और जमीन पर गिर पड़ी। पुलिस ने दोनों को संभाला।



Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
सीमा विवाद पर भारत की दो टूक / अफसरों ने कहा- चीन बॉर्डर से अपने 10 हजार सैनिक और हथियार हटाए, ऐसा होने पर ही पूरी तरह शांति कायम होगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी