क्रिकेट कमेंट / गंभीर ने कुंबले को बताया भारत का बेस्ट कप्तान; कहा- रिकॉर्ड के मामले में धोनी टॉप पर, लेकिन अनिल से बेहतर कोई नहीं

क्रिकेट कमेंट / गंभीर ने कुंबले को बताया भारत का बेस्ट कप्तान; कहा- रिकॉर्ड के मामले में धोनी टॉप पर, लेकिन अनिल से बेहतर कोई नहीं




  • गौतम गंभीर ने कहा- मैंने अनिल कुंबले की कप्तानी में 6 टेस्ट खेले हैं। यदि वे लंबे समय तक टीम इंडिया की कप्तानी करते तो सारे रिकॉर्ड तोड़ देते। -फाइल फोटोगौतम गंभीर ने कहा- मैंने अनिल कुंबले की कप्तानी में 6 टेस्ट खेले हैं। यदि वे लंबे समय तक टीम इंडिया की कप्तानी करते तो सारे रिकॉर्ड तोड़ देते। -फाइल फोटो





  • गौतम गंभीर ने कहा- कई कप्तानों के अंडर खेला, लेकिन उन सभी में अनिल कुंबले सबसे निस्वार्थ और ईमानदार इंसान हैं

  • भारतीय टीम के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ की कप्तानी की तारीफ की




 



नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट में इस समय हर एक खेल दिग्गज के बीच अपने-अपने पसंदीदा कप्तानों को बेहतर बताने की होड़ सी लग गई है। हाल ही में युवराज सिंह ने सौरव गांगुली को, जबकि सुरेश रैना ने महेंद्र सिंह धोनी के अपना पसंदीदा कप्तान बताया था। अब पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने इन सबसे हटकर अनिल कुंबले को भारत का बेस्ट कप्तान बताया है। गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड में कहा, ‘‘रिकॉर्ड के मामले में धोनी टॉप पर हैं, लेकिन मेरे लिए जिनके अंडर में मैं खेला उनमें कुंबले शानदार कप्तान हैं।’’ गंभीर ने 58 टेस्ट में 4154, 147 वनडे में 5238 और 37 टी-20 में 932 रन बनाए हैं।


गंभीर ने 2004 में गांगुली की कप्तानी में टेस्ट से डेब्यू किया था। यह मैच मुंबई में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला गया था। इसके बाद गंभीर ने राहुल द्रविड़, अनिल कुंबले और धोनी की कप्तानी में भी मैच खेले। गंभीर 2007 टी-20 और 2011 वनडे वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्य भी रहे हैं। 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 97 रन की मैच जिताऊ पारी खेली थी। इंडिया ने यह दोनों वर्ल्ड कप धोनी की कप्तानी में जीते थे।


‘कुंबले लंबे समय तक कप्तानी करते तो सारे रिकॉर्ड तोड़ देते’
उन्होंने कहा, ‘‘सौरव गांगुली ने वाकई बहुत अच्छी कप्तानी की है, लेकिन मेरा मानना था कि कुंबले लंबे समय तक कप्तानी करें। मैंने उनकी कप्तानी में 6 टेस्ट खेले हैं। यदि वे लंबे समय तक टीम इंडिया की कप्तानी करते तो सारे रिकॉर्ड तोड़ देते। कप्तान और नेता होने में फर्क होता है। मैं अपने करियर में बहुत सारे कप्तानों के अंडर में खेला हूं। उनमें से कुंबले सबसे निस्वार्थ और ईमानदार इंसान हैं। मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है।’’


कुंबले ने नवंबर 2007 में राहुल द्रविड़ के कप्तानी छोड़ने के बाद भारतीय टीम की कमान संभाली थी। यह उनके क्रिकेट करियर के 17वां साल था। वहीं, गंभीर खुद भी आईपीएल के सफल कप्तानों में से एक रहे हैं। उनके नेतृत्व में कोलकाता नाइट राइडर्स ने दो बार आईपीएल खिताब जीते। कुंबले ने 132 टेस्ट में 619 और 271 वनडे में 337 विकेट लिए हैं।


स्मिथ की कप्तानी का सबसे बड़ा प्रशंसक हूं: उनादकट
वहीं, भारत के तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ की कप्तानी की तारीफ की है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं इस बात का शुक्रगुजार हूं कि यह मेरे करियर में तब हुआ जब मैं अपना नाम स्थापित करने की जद्दोजहद में लगा था। मुझे अपने आप में विश्वास था, लेकिन आप जानते हैं कि कप्तान का आप में विश्वास हो यह कितना जरूरी है। यह 2017 सीजन में हुआ। मैं उनकी (स्मिथ) कप्तानी का बड़ा प्रशंसक हूं और उनकी बल्लेबाजी का भी।’’ स्मिथ 2017 में राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स के कप्तान थे, तब उनादकट ने उनकी कप्तानी में आईपीएल में खेला था। स्मिथ अब राजस्थान रॉयल्स के कप्तान हैं और उनादकट भी इस टीम के सदस्य हैं। दोनों ने 2018 सीजन में रॉयल्स के लिए एक साथ खेला था।



Popular posts