कोरोना पॉजिटिव जावेद को पकडऩे वाले नरसिंहपुर के छह अधिकारी और छह आरक्षक क्वारंटाइन

कोरोना पॉजिटिव जावेद को पकडऩे वाले नरसिंहपुर के छह अधिकारी और छह आरक्षक क्वारंटाइन
नरसिंहपुर। जबलपुर के गढ़ा सीएसपी रोहित कासवानी को कोरोना संक्रमित घोषित करने के बाद नरसिंहपुर के छह अधिकारियों और छह आरक्षकों को 14-14 दिन के लिए सरकारी व होम क्वारंटाइन कर दिया गया है। इन सबकी मुलाकात बीती 20 अप्रैल को कोरोना संक्रमित व पचास हजार रुपए के इनामी रासुक अभियुक्त जावेद की गिरफ्तारी वक्त सीएसपी रोहित कासवानी से हुई थी।
शुक्रवार को जैसे ही श्री कासवानी के संक्रमित होने की जानकारी अधिकारियों को लगी, वैसे ही जिला प्रशासन ने एहतियातन इन्हें क्?वारंटाइन करने का आदेश जारी कर दिया। हालांकि प्रशासन का कहना है कि ये सभी लोग पीपीई किट में थे और इनका सीएसपी गढ़ा से सीधे-सीधे कोई संपर्क नहीं हुआ था।
जो अधिकारी क्वारंटाइन में पहुंचे हैं उनमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश तिवारी को होटल में, अपर कलेक्टर मनोज सिंह ठाकुर, तेंदूखेड़ा एसडीओपी मोहंती मरावी, तहसीलदार पंकज मिश्रा, तेंदूखेड़ा टीआई का प्रभार संभाल रहे प्रशिक्षु डीएसपी आशीष जैन और एएसआई मनीष मरावी को होम कोरंटाइन किया गया है। वहीं छह आरक्षकों मो. हसन, बहादुर, वीरेंद्र गिरी, कृष्ण कुमार, सुदीप धाकड़ व सोमनाथ को तेंदूखेड़ा के चौधरी गार्डन में बनाए गए सरकारी क्?वारंटाइन सेंटर में रखा गया है।
असुरक्षित आए थे सीएसपी गढ़ा
बता दें कि 20 अप्रैल को तेंदूखेड़ा की मदनपुर चेकपोस्ट पर मेडिकल जबलपुर से फरार इंदौर के कोरोना संक्रमित व रासुका अभियुक्त जावेदन खान को गिरफ्तार किया गया था। तत्काल में चेकपोस्ट पर मौजूद एक वनरक्षक व दो अन्य कोटवारों को सरकारी क्?वारंटाइन कर दिया गया था, जबकि जावेद को लेने अन्य अधिकारियों के साथ गढ़ा सीएसपी रोहित कासवानी तेंदूखेड़ा पहुंचे थे। इस दौरान वे सिर्फ मास्क लगाए थे। हालांकि सीएसपी गढ़ा से नरसिंहपुर के अधिकारियों या आरक्षकों की सीधी मुलाकात नहीं हुई थी, साथ ही वे पीपीई किट भी पहने थे। बावजूद इसके जिला प्रशासन ने कोई रिस्क लिए बगैर इन सभी को कोरंटाइन किया है। इन सब की नए सिरे से मेडिकल जांच की जाएगी।
इनका ये है कहना
गढ़ा सीएसपी से हमारे अधिकारियों व आरक्षकों की सीधी कोई मुलाकात नहीं हुई थी, वे जावेद की गिरफ्तारी के वक्त सुरक्षा किट पहने हुए थे। जबकि गढ़ा सीएसपी ने किसी तरह की किट नहीं पहनी थी। आज उनके कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिलने पर कलेक्टर साहब के साथ हमने इन अधिकारियों व आरक्षकों को 14-14 दिन के लिए कोरंटाइन कर दिया है। जो लोग घर में अकेले रहते हैं उन्हें होम कोरंटाइन, जबकि शेष को शासकीय कोरंटाइन सेंटर भेजा गया है।
डॉ. गुरुकरण, एसपी, नरसिंहपुर
--
जबलपुर में गढ़ा सीएसपी जावेद की गिरफ्तारी के वक्त नरसिंहपुर जिले में आए थे। इसलिए हमने मौके पर मौजूद रहे एसएसपी, अपर कलेक्टर, एसडीओपी, तहसीलदार, टीआई समेत 12 लोगों को कोरंटाइन कर दिया है। हालांकि ये सभी लोग सुरक्षा किट में मौजूद थे। फिर भी एहतियातन हमने ये फैसला लिया है।

दीपक सक्सेना, कलेक्टर नरसिंहपुर।
------


Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
सीमा विवाद पर भारत की दो टूक / अफसरों ने कहा- चीन बॉर्डर से अपने 10 हजार सैनिक और हथियार हटाए, ऐसा होने पर ही पूरी तरह शांति कायम होगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी