मौलाना आजाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी को नोटिस


मैनिट में मनमानी नियुक्तियां किए जाने को चुनौती
जागरण जबलपुर। उच्चन्यायालय के न्यायाधीश श्री संजय द्विवेदी की एकलपीठ ने मौलाना आजाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नालॉजी (मैनिट)भोपाल में मनमानी नियुक्तियों को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई करते हुए मामले में केन्द्र शासन, मानव संसाधन विकास मंत्रालय, मैनिट, डॉ.हरीलाल तिवारी व डॉ.धीरज के अग्रवाल को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। 
सोमवार को एकलपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच, जबलपुर के प्रांताध्यक्ष डॉ.पीजी नाजपांडे की ओर से अधिवक्ता स्वप्निल गांगुली ने पक्ष रखते हुए दलील दी कि उक्त संस्थान द्वारा असिस्टेंट प्रोफेसर्स की नियुक्ति प्रक्रिया मनमाने तरीके से सम्पन्न कर ली गई। इस संदर्भ में अति आवश्यक राष्ट्रपति की अनुमति लिए बगैर काउंसिल ने स्वच्छंदता का परिचय दिया। इस वजह से जो वास्तविक हकदार थे उनका हक मारा गया। इसी रवैये के खिलाफ उच्च न्यायालय में याचिका दायर की गई है।  


Popular posts
पेरू की पॉपुलर मंत्री / 35 साल की वित्त मंत्री मारिया बनीं स्टार, कोरोना के बीच आम लोगों और छोटे कारोबारियों के लिए रिकवरी पैकेज तैयार करने पर तारीफ मिल रही
शुभ संयोग : गुरु पुष्य नक्षत्र 30 अप्रैल : डॉ हुकुमचंद जैन ज्योतिषाचार्य
Image
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे
लोक अभियोजन अधिकारियों की न्याय दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका है - न्यायमूर्ति पाठक
Image
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला