तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय ज्योतिष वास्तु महासम्मेलन 1 नवंबर से उज्जैन में


भोपाल। मां शारदा ज्योतिषधाम अनुसंधानम इंदौर के तत्वावधान में तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय ज्योतिष वास्तु महासम्मेलन 1 नवंबर से होटल अविका, स्ट्रीट-2-4 नजर अली मार्ग, विक्रमादित्य क्लॉथ मार्केट के पास, उज्जैन में आयोजित किया जाएगा। जिसमें देशभर से प्रकांड ज्योतिषाचार्य, वास्तुविद एवं तंत्रशास्त्री भाग लेंगे।
महासम्मेलन के संयोजक पंडित योगेंद्र महंत एवं आयोजक पंडित दिनेश शर्मा गुरुजी ने बताया कि महाकालेश्वर की नगरी में आयोजित किए जा रहे महासम्मेलन को भव्य एवं ऐतिहासिक बनाने के लिए तैयारियां अंतिम चरण में हैं।  उन्होंने बताया कि पहला सत्र 1 नवंबर को शाम 4 बजे पंजीयन से शुरू होगा, जिसमें हवन पूजन व रात्रिभोज होगा। 2 नवंबर को सुबह 9 बजे पंजीयन, स्वल्पाहार के बाद द्वितीय सत्र 11 बजे से शुरू होगा जिसमें पंचांग में फैली दुविधा एवं भ्रांतियां, सूर्य सिद्धांत एवं अन्य ग्रहों के अंतर और गणना विषय पर व्याख्यान होगा। जनता के लिए ज्योतिष परामर्श दोपहर 2 से 3 बजे तक होगा। 
श्री महंत ने बताया कि तृतीय सत्र दोपहर 3 बजे से शुरू होगा जिसमें कैंसर एवं डायबिटिक औषधि चिकित्सा एवं ज्योतिष निराकरण विषय पर चर्चा की जाएगी।  चतुर्थ सत्र शाम 7 बजे से रात्रि 12 बजे तक रखा गया है। जिसमें बिलेनियम अवार्ड एवं भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा। 3 नवंबर को पंचम सत्र में वास्तु शास्त्र का मानव जीवन में प्रभाव विषय पर सुबह 11 बजे से व्याख्यान होंगे। छठा सत्र अंक शास्त्र एवं वैवाहिक जीवन व हस्तरेखा विषय पर शोध पत्रों का वाचन होगा। जनता के लिए मार्गदर्शन दोपहर 2 से 3 बजे तक रखा गया है। बाद में टैरो कार्ड, यंत्र, मंत्र का मानव जीवन पर प्रभाव विषय पर चर्चा की जाएगी। शाम 4 बजे से समापन समारोह में विद्वानों का सम्मान किया जाएगा। 



Popular posts
पेरू की पॉपुलर मंत्री / 35 साल की वित्त मंत्री मारिया बनीं स्टार, कोरोना के बीच आम लोगों और छोटे कारोबारियों के लिए रिकवरी पैकेज तैयार करने पर तारीफ मिल रही
शुभ संयोग : गुरु पुष्य नक्षत्र 30 अप्रैल : डॉ हुकुमचंद जैन ज्योतिषाचार्य
Image
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे
लोक अभियोजन अधिकारियों की न्याय दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका है - न्यायमूर्ति पाठक
Image
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला