रेत माफिया के 5 ट्रक जब्त, 10 मुखबिर पकड़े गए


भिंड। जिले में रेत खनन और परिवहन पर पूरी तरह से प्रतिबंध है इसके बावजूद नयागांव और ऊमरी क्षेत्र के माफिया रेत भरकर वाहन निकाल रहे हैं। यह खुलासा लहार एसडीओपी उपेंद्र दीक्षित द्वारा की गई कार्रवाई के बाद हुआ है। एसडीओपी ने रौन पुलिस की सहायता से रेत से भरे 5 ओवरलोड वाहन और माफिया की मुखबिरी करने वाले 10 लोगों को पक?ा है। रेत से भरे वाहन ऊमरी से रौन, मिहोना होते हुए उप्र के जालौन में ले जाए जा रहे थे। सहकाारिता मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने अवैध रेत खनन को लेकर चंबल आईजी डीपी गुप्ता पर आरोप लगाए थे। इसके बाद जिले में पुलिस ने अवैध परिवहन और उत्खनन के खिलाफ सख्ती से अभियान चलाया, जिससे पिछले 2 माह में रेत परिवहन पर कुछ हद तक अंकुश लगा था। लेकिन रेत माफिया एक बार फिर सक्रिय हो गया है। लहार एसडीओपी उपेन्द्र दीक्षित रविवार रात करीब 3 बजे भिंड से गश्त करते हुए लहार जा रहे थेे। मेंहदा गांव के पास वह पहुंचे तो देखा कि ऊमरी क्षेत्र से रेत से ओवरलोड वाहन कतार में रौन की तरफ जा रहे थे। एसडीओपी ने तत्काल रौन टीआई मनोज राजपूत को सूचना देकर बुलवाया। एसडीओपी ने अन्य जगह से भी फोर्स बुला लिया। एसडीओपी ने मेंहदा गांव से ट्रक क्रमांक यूपी 75 एटी 5467, ट्रक क्रमांक एमपी 07 एचबी 6144, ट्रक क्रमांक यूपी 75 एटी 8106, ट्रक क्रमांक यूपी 75 एम 4674 और यूपी 75 एटी 0197 को पक? लिया और जब्त कर रौन थाने में भिजवाया। एसडीओपी दीक्षित के मुताबिक माफिया रेत के वाहन निकालने से पहले रैकी करवाते हैं। इससे रास्ते में अगर कहीं पुलिस या माइनिंग टीम हो तो सूचना कर दें। एसडीओपी ने लोकेशन देने वाले 10 लोगों को भी गिरफ्तार किया है। इनसे बोलेरो क्रमांक एमपी 30 सी 1008 को जब्त किया है। जबकि रैकी करने वाले विनोद पुत्र ओमकार शर्मा निवासी बीटीआई रोड भिंड, जितेंद शर्मा पुत्र बालगोविंद शर्मा निवासी पांडरी थाना ऊमरी, सुनील कुमार यादव पुत्र अशोक कुमार यादव निवासी बहादुर पुर सैंफई जिला इटावा उप्र, पवन पुत्र मुकेश सिंह यादव निवासी मुसावली थाना भारौली, सुनील सिंह यादव निवासी बोरेश्वर थाना सुरपुरा, अनिल कुमार पुत्र रमेश कुमार यादव निवासी नगला बेगा चौबिया जिला इटावा, बुद्धसिंह बघेल पुत्र रामनारायण निवासी खैरा थाना ऊमरी, सोनू भदौरिया पुत्र सुरेश भदौरिया निवासी खैरा थाना ऊमरी, बृजकिशोर पुत्र रामशंकर यादव निवासी विवेक बिहार कॉलोनी जिला इटावा उत्तर प्रदेश बताया है।


ऊमरी क्षेत्र से भरकर ले जा रहे थे रेत
एसडीओपी श्री दीक्षित के मुताबिक पूछताछ में ट्रक ड्राइवर और रैकी करने वालों ने बताया कि रेत से भरे ट्रक ऊमरी और नयागांव क्षेत्र से भरकर लाते हैं। ऊमरी के अतरसूमा, ढोंचरा, खैरा, श्यामपुरा बिलाव गांव में माफिया ने रेत अवैध तरीके से डंप कर रखा है। इसी तरह नयागांव क्षेत्र में ककहारा और नयागांव से रेत के वाहन भरे जा रहे हैं। इसमें यह वाहन नयागांव और ऊमरी से भरकर रौन बायपास से होते हुए मिहोना में मछंड तिराहे से बायपास से अंतियनपुरा होते हुए गोपालपुरा, बंगरा से जालौन जिले में चले जाते हैं।


Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे