मिलावट खोरों को तत्काल फांसी पर लटकाया जाए : पंडित योगेंद्र महंत


- कार्यवाही नहीं होने व सख्त कानून न बनने से छूट जाते हैं मिलावटखोर


भोपाल। प्रदेशभर में मिलावट खोरों के खिलाफ कार्यवाही न होने से व्यापारियों के हौसले बुलंद हैं। जिससे न केवल आम जनता के साथ खुले आम खिलवाड़ किया जा रहा बल्कि मिलावटखोर स्वतंत्र रूप से बिना डर भय के अधिक मिलावटकर मोटा मुनाफा कमा रहे हैं।
यह बात पूर्व राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त एवं विश्व ब्राह्मण समाज संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित योगेंद्र महंत ने कही। उन्होंने कहा कि सीएम कमलनाथ ने मुख्यमंत्री बनते ही कहा था कि प्रदेशभर में मिलावटखोरों के खिलाफ सख्त कानून बनाकर उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दिलाऊंगा। सरकार के 10 माह के कार्यकाल के बावजूद न तो सीएम कुछ कर पाए और न ही उनके स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट इस पर अंकुश लगा पाए। प्रदेश में वैसे तो हमेशा ही मिलावटी खाद्य पदार्थों की बिक्री हो रही है लेकिन दीपावली आते ही मावा, घी, पनीर, दूध में मिलावट खोरों की सक्रियता तेज हो जाती है।


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुस्से में
श्री महंत ने कहा कि खुद कांग्रेस के पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित कई कांग्रेस नेता कमलनाथ व उनके मंत्रियों द्वारा कार्यवाही नहीं किए जाने से असंतुष्ट हैं। महंत ने कहा कि प्रदेश में मिलावटखोरों को तत्काल फांसी की सजा दिलाएं जिससे लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ नहीं हो।


किसानों की काली दिवाली
श्री महंत ने कहा कि भारी बारिश से हुए फसलों को नुकसान का मुआवजा व कर्जमाफी नहीं होने से किसान काली दिवाली मनाएंगे। यह सरकार पर डूब मरने वाली कहावत चरितार्थ होती है। सीएम को तत्काल किसानों के खाते में मुआवजा राशि जमा करानी चाहिए।


Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे