धनतेरस-दीपावली पर मप्र में 12 सौ करोड़ के कारोबार की उम्मीद



- सोना-चांदी के भाव में हो सकती है 5 से 7 फीसदी वृद्धि


- राजकुमार सोनी
भोपाल। सोने-चांदी की कीमतों में त्योहार के मौके पर तेजी आने के बावजूद धनतेरस-दीपावली पर मप्र में 12 सौ करोड़ का कारोबार होने की उम्मीद है। सराफा व्यापारियों का कहना है कि त्योहारी सीजन में दोनों धातुओं के दामों में 5 से 7 फीसदी वृद्धि हो सकती है। बीते एक साल में सोना 27 प्रतिशत तो चांदी 25 प्रतिशत महंगा हो चुका और इस असामान्य तेजी की सबसे बड़ी वजह अमेरिका व चीन के बीच जारी ट्रेड वार व वैश्विक मंदी की आहट माना जा रहा है। पिछले साल सोना (24 कैरेट) 31,871.70 रुपये प्रति दस ग्राम व चांदी 40,हजार रुपये प्रति किलो थी।
कारोबारियों का कहना है कि भले ही पिछले दिनों सोना-चांदी में मामूली गिरावट के बाद बुधवार से तेजी का रुख देखने को मिल रहा है। बुधवार को भोपाल में 22 कैरेट सोने की कीमत 38 हजार 100 रुपए प्रति दस ग्राम और 24 कैरेट सोने की कीमत 38 हजार 550 रुपए रही, जबकि चांदी का भाव 46 हजार 300 रुपए प्रति किलोग्राम रहा। वहीं दूसरी ओर मुंबई, बैंगलोर, हैदराबाद, जयपुर, चेन्नई जैसे प्रमुख शहरों में भी सोने के दामों में बढ़ोत्तरी देखी गई है। लंदन एवं न्यूयॉर्क से मिली जानकारी के अनुसार आज सोना हाजिर 6.10 डॉलर बढ़कर 1,493.75 डॉलर प्रति औंस पर रहा। दिसंबर का अमेरिकी सोना वायदा 4.70 डॉलर प्रति औंस चढ़कर 1,486.40 डॉलर प्रति औंस पर रहा। अंतरराष्ट्रीय बाजार में चाँदी में नरमी रही। चाँदी हाजिर 0.05 डॉलर उतर कर 17.55 डॉलर प्रति औंस बोली गयी।


अमेरिका-चीन ट्रेडवार प्रमुख वजह
सराफा व्यापारी नवनीत अग्रवाल का कहना है कि धनतेरस तक सोना प्रति दस ग्राम 39 हजार रुपए के भाव से बिक सकता है। त्योहारों के चलते बाजार में तेजी आई है। उन्होंने बताया कि सोने चांदी के भावों में तेजी की बड़ी वजह दुनिया की दो प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं अमेरिका व चीन में जारी खींचतान है। प्रमुख व्यापारी महेंद्र सिंह वर्मा ने बताया कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में कमी की संभावना व वैश्विक स्तर पर आर्थिक मोर्चे पर सुस्ती भी बाजार धारणा को प्रभावित कर रही है। उन्होंने कहा,'दुनिया में जब भी मंदी की आहट होती है तो सोना महंगा हो जाता है क्योंकि सोने को सबसे सुरक्षित निवेश माना जाता है। यही कारण है कि भावों में तेजी है। 


12 सौ करोड़ का होगा बिजनेस
सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष नरेश अग्रवाल ने बताया कि धनतेरस-दीपावली के त्योहारी सीजन में प्रदेश में सोने-चांदी के आभूषणों की बिक्री 12 सौ करोड़ पहुंचने की उम्मीद है। 


बीएसई-एनएसई ने बढ़ाया ट्रेडिंग का समय
दो सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंजों एनएसई और बीएसई में सोने में निवेश के लिए ज्यादा समय मिलेगा। एक्सचेंजों ने कहा है कि इस दिन गोल्ड एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड (गोल्ड ईटीएफ) और सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश के लिए ज्यादा समय मिलेगा। ये एक्सचेंज 27 अक्टूबर को शाम 6.15 बजे से 7.15 बजे के बीच दिवाली लक्ष्मी पूजन के लिए मुहूर्त ट्रेडिंग सत्र भी आयोजित करेंगे। एनएसई ने कहा है, एक्सचेंज शुक्रवार को धनतेरस के शुभ अवसर पर सोने के
एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड और एसजीबी में ज्यादा देर तक लाइव
ट्रेडिंग आयोजित करेगा।


शुभ मुहूर्त देखकर खरीदें सोना
धनतेरस पर सोना खरीदने से कई गुना लाभ होता है और मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हंै। धन तेरस पर शुभ मुहूर्त 25 अक्टूबर को शाम 7 बजकर 8 मिनट, 26 अक्टूबर की सुबह 6 बजकर 28 मिनट तक, 26 अक्टूबर को सुबह 6 बजकर 28 मिनट से शाम 3 बजकर 46 मिनट तक होगा।



Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे