अडानी ग्रुप मालनपुर में  लगाएगा 27 करोड़ का गैस प्लांट


- भिंड-दतिया के साथ इटावा तक जाएगी लाइन, निवेश के साथ मिलेगा रोजगार
ग्वालियर। देश का नामचीन अडानी ग्रुप मालनपुर में गैस प्लांट लगाकर अंचल में अपने कारोबार की शुरूआत करेगा। इस प्लांट के लिए ग्रुप ने मप्र इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कार्पोरेशन (एमपीआईडीसी) से मालनपुर इंडस्ट्रियल एरिया में 3 एकड़ जमीन भी ले ली है। जहां 27 करोड़ रुपए के निवेश से गैस सप्लाई प्लांट तैयार होगा और सैकड़ों लोगों को रोजगार मिलेगा।  इस प्लांट से गैस पाइप लाइन दतिया से लेकर मालनपुर-भिंड के साथ इटावा की ओर निकाली जाएगी। कंपनी मालनपुर के उद्योगों को गैस सप्लाई करेगी। अडानी ग्रुप का अंचल में ये पहला उद्योग है और एमपीआईडीसी को उम्मीद है कि कंपनी भविष्य में दूसरे कारोबार की इंडस्ट्रीज भी स्थापित कर सकती है। वहीं मालनपुर में इस गैस प्लांट लगने के बाद गैस सप्लाई में कॉम्पटीशन बढ़ेगा और गैस खरीदने वाली इंडस्ट्रियों को कीमतों में राहत भी मिल सकती है।



अंचल में नई इंडस्ट्रीज की आमद
पारले ग्रुप ने सीतापुर में 33 एकड़ जमीन ली है। अगले 2 साल में ये यूनिट काम शुरू कर देगी। यहां एक हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। ग्रुप इस जमीन पर 330 करोड़ रुपए का निवेश कर फ्रूटी व एप्पी का सबसे आधुनिक प्लांट लगाएगा। ग्रुप के ये दोनों ही प्रॉडक्ट विश्वस्तरीय पहचान रखते हैं। सीतापुर इंडस्ट्रियल एरिया में मयूर यूनिकोट्स ने अपनी यूनिट का काम शुरू कर दिया है जो कि लैदर-रैग्जीन व जूतों के ऊपरे सिरे पर लगने वाले कपड़े-जाली को तैयार करती है। कंपनी यहां करीब 25 एकड़ जमीन पर काम कर रही है और 500 से अधिक लोगों को प्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। मालनपुर इंडस्ट्रियल एरिया में 2015 से बंद एटलस साइकिल यूनिट को प्रबंधन फिर शुरू करने जा रहा है। प्रबंधन इस यूनिट में अब साइकिल या उससे जुड़ा सामान तैयार नहीं करेगा, बल्कि इसमें स्टील पाइप बनाए जाएंगे। ग्रुप ने इसकी जानकारी एमपीआईडीसी को भी दी है। ऐसा होने पर मालनपुर में एक औैर इंडस्ट्रीज चालू हो जाएगी और निवेश के साथ क्षेत्र के लोगों को रोजगार भी मिलेगा।


बंद होती इंडस्ट्रीज के बीच राहत की उम्मीद
इंडस्ट्रीज सेक्टर को लेकर बीते 15 साल का वक्त ग्वालियर अंचल के लिए बड़ा खराब रहा है। ग्वालियर से सटे मालनपुर और बानमौर इंडस्ट्रियल एरिया में पिछले डेढ़ दशक में छोटी-बड़ी 25 से अधिक इंडस्ट्रीज बंद हुई हैं। बंद हुई इंडस्ट्रीज को फिर चालू करने के लिए सरकार और कारोबारियों के बीच बात तो कई बार हुई, लेकिन हुआ कुछ नहीं। अकेले मालनुपर में ही कई ऐसी बड़ी यूनिट बंद हुई हैं जो कि 15 से 20 हजार लोगों को यूनिट में रोजगार देती थी। जिनमें हॉटलाइन ग्लास लिमिटेड, हॉटलाइन टेली ट्यूब लिमिटेड, मालनपुर लेदर, एटलस साइकिल, परफेक्ट ड्ग्स, प्रोमीनेंट सीमेंट प्राइवेट लिमिटेड, ग्वालियर पोलीपाइप, सिटी कॉटन, हेमिलटन शूज, एमपी आयरन एवं ऊषा मेटल प्राइवेट लिमिटेड आदि शामिल हैं।


इनका कहना है
अडानी ग्रुप ने मालनपुर में जगह ले ली है और कंपनी वहां गैस प्लांट लगा रही है। इस नई इंडस्ट्री के आने से अंचल के इंडस्ट्री सेक्टर को निवेश तो मिलेगा ही, साथ ही लोगों को रोजगार भी मिलेगा। वहीं सीतापुर में भी नई इंडस्ट्रीज आ रही हैं और कई बड़े ग्रुप जमीन को लेकर चर्चा कर रहे हैं। जल्द ही कई बड़े ग्रुप ग्वालियर अंचल में यूनिट स्थापित करेंगे।
- सुरेश शर्मा, एमडी, एमपीआईडीसी


Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे