बिजली मंत्री प्रियव्रत सिंह की प्रेस कॉन्फ्रेंस में हो गई बत्ती गुल, कांग्रेस ने कहा ये साजिश है


भोपाल। सड़क, बिजली, पानी के मुद्दे पर सत्ता से बाहर हुई और फिर सत्ता में आयी कांग्रेस का बिजली पीछा नहीं छोड़ रही। मध्य प्रदेश में कांग्रेस जब से सत्ता में आयी है बिजली फिर गुल होने लगी है। आज तो हद हो गयी जब बिजली मंत्री प्रियव्रत सिंह की प्रेस कॉन्फ्रेंस में ही बत्ती गुल हो गई। ये प्रेस कॉन्फ्रेंस किसी गांव-खेड़े में नहीं बल्कि राजधानी भोपाल में हो रही थी।


अंधेरे में ग़ुम हुईं उपलब्धियां
प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह की आज भोपाल में प्रेस कॉन्फ्रेंस हो रही थी। इसमें वो बिजली विभाग के फैसलों के बारे में जानकारी दे रहे थे। वो बता रहे थे कि सरकार ने इंदिरा गृह ज्जेति योजना में एक करोड़ से ज्यादा उपभोक्ताओं के हित में फैसले लिए। मंत्री ने बात शुरू ही की थी कि अचानक लाइट चली गई। कॉन्फ्रेंस हॉल में पहले अंधेरा छाया और फिर सन्नाटा। मंत्री और अफसर सब सकते में आ गए।


दो मिनट रहे सन्न
दो मिनट बाद ही लाइट आ गई। लेकिन उतनी देर में तो सबके चेहरे पर हवाइयां उडऩे लगीं। प्रदेश का मीडिया सामने था। सरकार की उपलब्धियां गिनायी जा रही थीं कि सबके सामने बल्लियां उखड़ गईं। लाइट आने पर प्रियव्रत सिंह ने दोबारा अपनी बात शुरू की लेकिन वो सहज नहीं हो पाए। बाद में उन्होंने इसकी जिम्मेदारी विपक्ष पर डाल दी। ऊर्जा मंत्री ने कहा कांग्रेस सरकार के मंत्रियों की प्रेस कॉन्फ्रेंस और दूसरे आयोजनों के दौरान बिजली गुल होने के पीछे साजिश है। सरकार ऐसे लोगों की पहचान कर कार्रवाई करेगी।


विपक्ष ने घेरा
ख़बर लगते ही बीजेपी हरकत में आ गयी। शिवराज सिंह चौहान ने  ट्वीट करने में देर नहीं की। उन्होंने बिजली कटौती और ट्रिप फॉल्ट बंद होने के दावों पर तंज कसा कि ये है प्रदेश का हाल और ये है ऊर्जा मंत्री की प्रेस कॉन्फ्रेंस। कह रहे थे कि प्रदेश में बिजली कटौती और ट्रिप फॉल्ट बंद हो गया है। बस तभी बत्ती गुल। इसे कहते हैं सिर मुंडाते ही ओले पडऩा।


 


 


Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे