प्रदेश सरकार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का कटा मानदेय शीघ्र वापस करे

- विश्व ब्राह्मण समाज संघ ने सीएम को लिखा पत्र 

इंदौर। शिवराज सरकार के समय आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मानदेय के रूप में 11 हजार रुपए मिलते थे, लेकिन अब कमलनाथ सरकार द्वारा इनमें से 1500 रुपए काटकर मानदेय दिया जा रहा है। जिससे आंगनबाड़ी कार्यकर्ता परेशान हैं।

विश्व ब्राह्मण समाज संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त पंडित योगेंद्र महंत ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को लिखे एक पत्र में कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को 1500 रुपए की राशि केंद्र सरकार देती थी, जिसे राज्य सरकार मानदेय में जोड़कर दे देती थी। इससे कार्यकर्ता खुश थीं। इसके साथ ही आशा कार्यकर्ताओं को भी 750 रुपए उनके मानदेय में जोड़कर दिए जाते थे, जो 8 हजार रुपए होता था, लेकिन कमलनाथ सरकार आने के बाद 1500 और 750 रुपए की राशि को काट दिया गया है और उसे जोड़कर नहीं दिया जा रहा है। इसी को लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता नाराज हैं। मुख्यमंत्री कमलनाथ के नाम लिखे पत्र में कहा गया है कि काटे गए रुपए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मानदेय में जोड़कर शीघ्र ही दिए जाएं जिससे कार्यकर्ता परेशान न हों। 

Popular posts
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
IIT गांधीनगर की रिसर्च / भारत में नाले के गंदे पानी में कोरोनावायरस होने के प्रमाण मिले, देश में इस तरह की यह पहली रिसर्च हुई
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे