सोशल मीडिया में सम्पर्क ऑनलाइन काव्य गोष्ठी की शानदार 16 कड़िया प्रसारित/


 संपर्क ऑनलाइन काव्य गोष्ठी में अब तक 80 कवयित्रियों की लाजवाब प्रस्तुति

19 अप्रैल से अब तक 19 राज्यों की नवोदित व प्रतिष्ठित काव्य साधकों ने जोड़कर भारत दर्शन का एहसास कराया/

*कविता मानव मन के सहज उद्गार-रेनू शब्दमुखर

*जीवन चलने का नाम-डॉ. आशा शर्मा

*साहित्य का साथ मनुष्य को सकारात्मक व रचनात्मक बनाने का सफल जरिया-मधुमिता सेन

 

विश्वव्यापी कोरोना आपदा के चलते सारा देश जब लॉकडाउन में बंधा हुआ है। हर कोई अपने घर मे  एकांतवास में इस बीमारी से भयाक्रांत है ,ऐसे में  सामाजिक सेवा कार्यो में अग्रणी संपर्क साहित्यिक संस्था की सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्म पे काव्य गोष्ठी की धूम मचा कर 19 राज्यों की नवोदित व प्रतिष्ठित काव्य साधकों को जोड़कर घर बैठे लॉकडाउन का पालन करते हुए भारत दर्शन का खूबसूरत एहसास कराया।

संस्था की प्रदेश समन्वयक रेनू शब्द मुखर  ने बताया कि साहित्यनुरागियों के खाली समय को रचनात्मकता से से जोड़े रखने के क्रम में कवयित्रियों की विभिन्न काव्यरस की कविताओं से सराबोर कर आह्लादित करवाया। 

 

अनूठी बात

किस काव्य गोष्ठी ऑनलाइन काव्य गोष्ठी की सबसे खास और अनूठी बात यह है कि इसमें इसकी अब तक की 16 कड़ियों में देश के अलग-अलग राज्यों की प्रसिद्ध कवित्री यों ने अपने प्रभावी मंच संचालन द्वारा सबको आह्लादित किया।

 

काव्य गोष्ठी में भारत दर्शन

अब तक प्रसारित हो चुकी 15 कड़ियों की काव्य गोष्ठी में डॉ.आरती भदोरिया, 

नीना आन्दोत्रा, मीनाक्षी मेनन ,

कविता अग्रवाल, मोना बग्गा

 रेनू शब्द मुखर,विजयलक्ष्मी शोभा गोयल, हिमाद्री वर्मा,आशा शर्मा,प्रेम बजाज,भाग्यमजी,सत्या कीर्ति,संगीता गुप्ता,संगीता सक्सेना,नीलम कालरा,स्नेह परनामी,मीनाक्षी सुकुमारन,लता श्रीमाली,पूजा सिंह, प्रिया सूफी,शिल्पी पचौरी,आरती बजाज, शशिपाठक, ज्योत्सना सक्सेना, रश्मि पारीक ,अंजना गर्ग ज्ञानवती सक्सेना, दीपिका राव,  अनिला बत्रा, पल्लवी माथुर, डॉ पारुल जैन, जीनस कँवर, स्वाति , शशि सक्सेना, बीना अडवाणी,  पूनम झा, नंदा पांडे, ज्योति पारीक, पूनम धाबाई, स्वाति जैसलमेरिया, मीनू सोनी, वंदना धाबाई, कविता रायजादा,रीता गौड़, निकिता त्रिवेदी, वंदना धाबाई, रूपल जौहरी, प्रांजलि अवस्थी, पल्लवी पुंडीर,लक्ष्मी शर्मा,संगीता सेठी, पूर्णिमा शांडिल्य,डेज़ी जुनेजा,भावना ठाकर व शशिकला मूंदड़ा ने

विभिन्न रस की कविताओं से दर्शकों को काव्यरस में डुबो अपने सामाजिक दायित्व को भी बखूबी निभाया।

 सृजन की अनवरत जारी रहने वाली इस कड़ी में रांची, बैंगलोर, असम,त्रिपुरा, हैदराबाद, अहमदाबाद, गुडगांव, कुचामन, बीकानेर,देहरादून,मुम्बई,

हरिद्वार,मुजफ्फरनगर,

सवाईमाधोपुर,उत्तरप्रदेश,पंजाब,

हरियाणा,पश्चिम बंगाल,गुजरात,

 बांसवाड़ा, अलवर,आगरा, झुंझुनूं,व जयपुर से जुड़ कर पूरे भारत दर्शन का अहसास करवाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।

विभिन्न मंच से व सोशल मीडिया के विभिन्न लोगों ने संपर्क संस्थान के उतरोत्तर प्रयास की अभूतपूर्व सफलता हेतु अध्यक्ष अनिल लढ़ा को बधाई प्रेषित की है।

संस्था के पदाधिकारियों,

 

 साहित्यकारों ने दिए सकारात्मक संदेश

इस बीच काव्य गोष्ठी की सफलता से प्रभावित होकर संस्था के पदाधिकारी गण प्रबुद्ध जन व देशभर से विभिन्न साहित्यकारों ने अपने सकारात्मक संदेश प्रेषित किए जिनमें अध्यक्ष ने लड़ा आईएएस मनोज शर्मा, एक्टर  उषा जैन, आर के मार्बल के वित्त निदेशक सुभाष अग्रवाल, दिलीप जाजु, दूरदर्शन से उषा रस्तोगी, साहित्यकार दुर्गाप्रसाद अग्रवाल, नंद भारद्वाज, प्रबोध गोविल,माया मृग जी,बाल साहित्यकार विमला भंडारी, संगीता माहेश्वरी ,भूपेंद्र राणा और सोमानी जी प्रमुख रहे।

मनु जैन लेखक वीडियो संपादक

इस काव्य गोष्ठी की अहम कड़ी मनु जैन लेखक है जिसने सारे वीडियो तैयार कर अपनी कुशलता का परिचय दिया है।

कार्यक्रम की संयोजिका रेनू शब्दमुखर ने दिल से सभी का आभार व्यक्त किया।


Popular posts
सीमा विवाद पर भारत की दो टूक / अफसरों ने कहा- चीन बॉर्डर से अपने 10 हजार सैनिक और हथियार हटाए, ऐसा होने पर ही पूरी तरह शांति कायम होगी
उत्तराखंड के चारधाम / बद्रीनाथ को रोज चढ़ाई जाती है बद्रीतुलसी, यहां के बामणी गांव के लोग बनाते हैं ये माला
प्रसिद्ध समाजसेवी डॉ योगेश दुबे मुंबई की राजकुमार सोनी से बातचीत
Image
अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव / अश्वेतों की नाराजगी भुनाने में जुटे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन, युवाओं को लुभाने के लिए डिजिटल कैंपेन भी चलाएंगे
कोरोना इफेक्ट / एमिरेट्स एयरलाइंस ने 600 पायलटों और 6500 केबिन क्रू को निकाला, सितंबर तक कर्मचारियों की सैलरी में 50% कटौती जारी रहेगी